रेप के आरोप में बीजेपी विधायक रामदुलार गोंड को 25 साल की जेल| जंगल में ले जाकर रेप करता था विधायक, कहा- ‘किसी को बताया तो जान से मार दूंगा’

वाराणसी: यूपी के सोनभद्र की एमपी-एमएलए कोर्ट ने शुक्रवार को दुद्धी विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक रामदुलार गोंड को रेप मामले में 25 साल जेल की सजा सुनाई है. 12 दिसंबर को अदालत ने गोंड को नौ साल पहले एक नाबालिग लड़की से बलात्कार का दोषी ठहराया था। इस सजा के बाद उनका यूपी विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य होना तय है. दरअसल, लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के अनुसार, कोई भी जन प्रतिनिधि जो दो या अधिक वर्षों के लिए जेल में बंद है, उसे ‘दोषी’ की तारीख से सदन की सदस्यता के लिए अयोग्य माना जाएगा। सजा पूरी होने के बाद वह अगले छह साल तक सदन की सदस्यता के पात्र नहीं होंगे.

यह घटना 4 नवंबर 2014 को हुई थी. घटना के वक्त विधायक की पत्नी ग्राम प्रधान थीं. पीड़ित लड़की के भाई की शिकायत पर म्योरपुर थाने की पुलिस ने रामदुलार गोंड के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उस समय गोंड विधायक नहीं थे. मामले को पॉक्सो कोर्ट में सुनवाई चल रही थी. । गोंड के विधायक बनने के बाद मामला एमपी/एमएलए कोर्ट में भेजा गया। जब कोर्ट में विधायक गोंड को सजा सुनाई गई तो उनकी गर्दन झुक गई और वे दुखी हो गए. वहीं, पीड़िता के भाई ने कोर्ट के फैसले पर संतोष जताया और कहा कि लंबे संघर्ष और उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार उन्हें न्याय मिल गया.

जंगल में ले जाकर रेप करता था रामदुलार गोंड विधायक, कहा- ‘किसी को बताया तो जान से मार दूंगा’

पीड़िता ने मामले पर मजिस्ट्रेट को बयान दिया। . पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने रोते हुए अपनी आपबीती सुनाई और कहा कि वह उसे जंगल में ले गया और गलत काम किया और कहा- अगर किसी को बताया तो जान से मार दूंगा। पीड़िता के बयान के आधार पर सजा दी गई है.

आपको बता दें कि 12 दिसंबर को एमपी-एमएलए कोर्ट ने एक किशोरी से रेप के मामले में बीजेपी विधायक रामदुलार गोंड को दोषी करार दिया था. मंगलवार को सुनवाई के बाद एमपी-एमएलए कोर्ट के जज एहसानुल्लाह खान ने सजा सुनाने के लिए 15 दिसंबर की तारीख तय की थी.

पीड़िता ने कहा, न्याय की जीत हुई

एफआईआर के मुताबिक, गोंड ने लड़की को धमकाया और एक साल तक उसके साथ रेप किया, जिससे वह गर्भवती हो गई. पीड़िता की आठ साल की बेटी है. मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान में पीड़िता ने रो-रोकर अपनी आपबीती सुनाई. पीड़िता के बयान के आधार पर कोर्ट ने गोंड को सजा सुनाई है. पीड़िता और उसके भाई ने फैसले पर खुशी जताई और इसे न्याय की जीत बताया.

विधायकी खोने वाले चौथे विधायक होंगे

रामदुलार दोषी करार दिए जाने के बाद अपनी विधायकी गंवाने वाले मौजूदा विधानसभा के चौथे विधायक होंगे. ऐसे में विधायक को मिली सजा बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. इससे पहले 2017 में बीजेपी और अपना दल-एस गठबंधन से इस सीट से जीतने वाले हरिराम चेरो को भी आर्म्स एक्ट के तहत तीन साल जेल की सजा सुनाई गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *