• 24 February 2024

UP Police सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द: पेपर लीक के बाद योगी सरकार का बड़ा कदम

उत्तर प्रदेश में up police constable भर्ती परीक्षा में हुई धांधली के बाद, योगी आदित्यनाथ सरकार ने परीक्षा को रद्द कर दिया है। इसके पीछे पेपर लीक का मामला सामने आया था। यह एक बड़ा कदम है, जिसे सरकार ने उठाया है ताकि न्याय हो सके। अब पुनः छह महीने के भीतर परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी।

शनिवार को, उत्तर प्रदेश सरकार ने विभिन्न जिलों में 17 और 18 फरवरी को होने वाली पुलिस भर्ती परीक्षा को रद्द कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस निर्णय का ऐलान किया। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर एक पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने बताया कि परीक्षाओं की शुचिता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

उप्र पुलिस आरक्षी के पदों के लिए आयोजित भर्ती परीक्षा-2023 को निरस्त करने और आगामी छह महीने के भीतर पुनः परीक्षा कराने के आदेश दिए गए हैं। यह निर्णय स्पष्ट करता है कि सरकार पेपर लीक के मामले को गंभीरता से लेती है और युवाओं की मेहनत को सम्मान देती है।

इस घटना के बाद, भर्ती बोर्ड ने इंटरनल जांच के लिए एक जांच कमेटी की गठन कर दी है। इस कमेटी की जांच के बाद ही सच्चाई सामने आएगी। सरकार ने यह संदेश भी दिया है कि किसी भी अराजक तत्व के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी।

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को लीक होने के बाद, छात्रों का आंदोलन भी थमा नहीं। उन्होंने न्याय की मांग की और सरकार से कड़ी कार्रवाई की उम्मीद की।

यह परीक्षा कुल 60,244 पदों के लिए आयोजित की गई थी, जिसमें 40 लाख से ज्यादा छात्र शामिल हुए थे। पेपर लीक के मामले में, उप्र पुलिस भर्ती बोर्ड ने सख्ती से कदम उठाया है और न्याय की मांग की है।

योगी सरकार का यह कदम स्पष्ट संदेश देता है कि वह जनता के हित में कड़ी कार्रवाई करेगी, चाहे वह कितनी भी मुश्किल हो। इससे स्पष्ट होता है कि सरकार पेपर लीक के मामले में किसी भी तरह का समझौता नहीं करेगी और न्याय के माध्यम से मामले की जांच कराएगी।

कैसे सामने आया UP Police पेपर लीक काड?

विद्यार्थियों का दावा है कि परीक्षा के दौरान दूसरी शिफ्ट का पेपर लीक हुआ था। खबरें आईं कि परीक्षा के प्रश्न पत्र कोचिंग सेंटरों में पहले ही पहुंच गए थे, जो शाम 3 से 5 बजे हुई थीं। पहले शिक्षक ने बताया कि पेपर चोरी हुई है।

इस मुद्दे ने परीक्षा के बाद तूल पकड़ लिया। सरकार ने अब भर्ती परीक्षा को टाल दिया है। 6 महीने बाद परीक्षाएं फिर से होंगी।

सीएम योगी ने किया ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लिखा, “यूपी पुलिस आरक्षी नागरिक पुलिस पदों पर चयन के लिए आयोजित परीक्षा-2023 को निरस्त करने तथा आगामी 06 माह के भीतर ही पुन: परीक्षा कराने के आदेश दिए हैं।” परीक्षा शुचिता पर कोई समझौता नहीं हो सकता। युवाओं की मेहनत को नुकसान पहुंचाने वाले किसी भी परिस्थिति में बख्शे नहीं जाएंगे। ऐसे अपराधी लोगों पर कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।’

One thought on “UP Police सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द: पेपर लीक के बाद योगी सरकार का बड़ा कदम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version